UAE के जिस एयरबेस पर रुका था भारत का राफेल फाइटर जेट, उसके नजदीक ही ईरान का मि’साइल ह’मला

1218

बुधवार को फ्रांस से 5 राफेल लड़ा’कू विमान भारत आ रहे हैं। वहीं ये सभी राफेल लड़ा’कू विमान भारत आने से पहले UAE के अल दाफरा एयरबेस पर रुके थे। वहीं इस बीच UAE के जिस एयरबेस पर राफेल लड़ाकू विमान रुका था उसके ही नजदीक ईरान ने एक मि’साइल ह’मला किया है।

दरअसल, सोमवार को फ्रांस से रवाना हुआ पांच राफेल विमानों की पहली खेप फ्रांसीसी बंदरगाह शहर बोरदु में मेरिग्नैक एयरबेस से रवाना हुई। इसके बाद ये राफेल ल’ड़ाकू विमान करीब सात घंटों की उड़ान के बाद संयुक्त अरब अमीरात के अल दाफरा हवाईअड्डे पर पहुंचे थे और यहीं पर रुके थे। वहीं इस दौरान ईरानी सैनिकों ने युद्धाभ्यास करते हुए संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अबू धाबी में अल दाफरा एयरबेस के पास अमेरिकी सैनिकों के अल-उदीद एयरबेस पर मि’साइल ह’मला किया।

ईरान के अर्ध’सैनिक रिवोल्यूशनरी गार्ड ने मंगलवार को ये हमला रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण होरमुज़ जलडमरूमध्य में एक नकली विमान वाहक पोत पर हेलीकॉप्टर के जरिए मि’साइल ह’मला किया। यह एक मॉक ड्रिल था, जिसका कारण तेहरान और वॉशिंगटन में बढ़े तनावों के बीच अमेरिका को ध’मकी देना था। बता दें, अल-उदीद एयरबेस कतर में अमेरिकी सेना के मध्य कमान का मुख्यालय है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अमेरिका के साथ चल रहे तनाव के बीच ईरान ने मंगलवार को संयुक्‍त अरब अमीरात स्थित फ्रांस के अल धाफ्रा हवाई ठिकाने के पास समुद्र में कई मि’साइलें दा’गीं। वहीं इस ह’मले के बाद पूरे फ्रांसीसी बेस को हाई अ’लर्ट कर दिया गया साथ ही ईरानी मिसा’इल खतरे को देखते हुए भारतीय पायलटों को भी सुरक्षित स्‍थानों पर छिपने के लिए कहा गया।

आपको बता दें, फ्रांस से पांच राफेल फाइटर जेट आज भारत पहुंच रहे हैं और ये राफेल फाइटर जेट 7000 किलोमीटर का सफ़र तय करके भारत पहुंचेंगे और ये राफेल फाइटर जेट अंबाला वायुसेना अड्डे पर लैंड करेंगे।