दादा साहब फाल्के अवार्ड मिलने पर बोलें अमिताभ, कहीं घर बैठकर आराम करने का संकेत तो नहीं?

बॉलीवुड के शहंशाह कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन को आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दादासाहेब फाल्के अवार्ड से सम्मानित किया। इस दौरान अमिताभ बच्चन की पत्नी जया बच्चन और उनके बेटे अभिषेक बच्चन भी समारोह में मौजूद थी।
अवार्ड लेने के दौरान अमिताभ बच्चन ने मजाक में पूछा कि, क्या अब बहुत काम हो गया और अब मुझे घर पर बैठकर आराम करना चाहिए।लेकिन, अभी भी बहुत काम बाकी है और इसलिए आप स्पष्ट कर दीजिए।” अमिताभ बच्चन की इस बात को सुनकर राष्ट्रपति भवन में बैठे सभी लोग हंसने लगे।

दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किए जाने के बाद अमिताभ बच्चन ने भारत सरकार के साथ देश की जनता को इस सम्मान के लिए तहे दिल से धन्यवाद व्यक्त किया। साथ ही कहा कि, “मैं आज जो भी हूं। वह देश की जनता के प्यार का नतीजा है। मैं सरकार, सूचना प्रसारण मंत्रालय और जूरी के सदस्यों के प्रति आभार प्रकट करता हूं। मुझ पर ईश्वर की कृपा रही है और माता-पिता का आशीर्वाद रहा है। निर्माता-निर्देशकों और सह-कलाकारों का साथ रहा। सबसे ज्यादा भारत की जनता का स्नेह और प्रोत्साहन रहा, जिसकी वजह से मैं आपके सामने खड़ा हूं। इस पुरस्कार की स्थापना 50 साल पहले हुई और इतने ही साल मुझे फिल्म इंडस्ट्री में काम करने का मौका मिला। इसका भी मैं आभारी हूं। इसे विनम्रता से स्वीकार करता हूं।”
गौरतलब है कि अमिताभ बच्चन ने 1969 में सात हिंदुस्तानी फिल्म से अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत की थी। इस दौरान उनकी जीवन में कई उतार-चढ़ाव आए, लेकिन उन्होंने कभी भी दिक्कतों को अपने आड़े हाथों आने नहीं दिया और आज अमिताभ बच्चन ने खुद को सदी के महानायक के रूप में स्थापित कर दिया।

Leave a Comment