न्यूजीलैंड से मिली हार के बावजूद टीम इंडिया बना सकती है सेमीफाइनल में जगह, समझिए पूरी गणित

532

IND vs NZ T20 World Cup: ऐसा लगता है कि भारत को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद इवेंट्स में सफलता का स्वाद चखने के लिए थोड़ा और इंतजार करना पड़ सकता है। न्यूज़ीलैंड से हार के बाद विराट कोहली की टीम के सेमीफाइनल में पहुंचने की उनकी संभावना को बड़ा झटका लगा है। अब टीम शायद ही सेमीफइनल का हिस्सा बन पाए।

खराब प्रदर्शन जारी

भारत को 24 अक्टूबर को अपने टी 20 विश्व कप 2021 के ओपनर में पाकिस्तान ने हराया था, जिसके बाद उन्हें 6 दिन का ब्रेक मिला था। टीम से मजबूत वापसी की उम्मीद की जा रही थी, पर टीम का प्रदर्शन और खराब रहा खासकर बल्ले के साथ क्योंकि वे दुबई में न्यूजीलैंड द्वारा 20 ओवरों में केवल 110 रन बना पाए।

ये भी पढ़ें- IND vs NZ: न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम इंडिया को मिली हार की 5 बड़ी वजहें, आखिरी सबसे अहम

22 साल बाद वर्ल्ड कप में पहले दो मैच गंवाए

22 साल में यह पहली बार है जब भारत ने विश्व कप अभियान में अपने पहले दो मैच गंवाए हैं। भारत ने आखिरी बार ऐसा 1999 में इंग्लैंड में हुए विश्व कप में किया था। जब मोहम्मद अजरुद्दीन टीम के कप्तान थे। तब टीम इंडिया अपने शुरुआती दो मैच साउथ अफ्रीका और ज़िम्बाब्वे से हारी थी।

सेमीफाइनल में पहुँचने का समीकरण

वैसे तो टीम इंडिया का सेमीफइनल में पहुँचना लगभग न मुमकिन है लेकिन अभी भी एक समीकरण बन रहा है जो टीम इंडिया को सेमीफइनल में पहुँचा सकता है।

भारत के अगले मुकाबले अब अफगानिस्तान, नामीबिया और स्कॉटलैंड से है अगर टीम तीनों मैचों को बड़े अंतर से जीतती है, साथ ही अफगानिस्तान की टीम न्यूज़ीलैंड को हरा देती है तो टीम ग्रुप दो के टॉप 2 में अपनी जगह बना कर सेमीफइनल का हिस्सा बन सकती हैं।

ये भी पढ़ें- विराट कोहली की वो 3 गलतियां, जो बनी पाकिस्तान के खिलाफ शर्मनाक हार का कारण

रन रेट के मामले में भारत अफगानिस्तान और न्यूज़ीलैंड से बहुत पीछे है। ऐसे में केवल उम्मीद की जा सकती है कि अफगानिस्तान और न्यूजीलैंड अब अपने अगले मैच बड़े अंतर से न जीते। रन रेट की बात भी तभी आयेगी जब न्यूज़ीलैंड अफगानिस्तान के खिलाफ या किसी और टीम के खिलाफ अपना मैच हारती है। वरना सीधे सीधे पाकिस्तान और न्यूजीलैंड क्वालीफाई कर जाएंगे।