नए साल के मौके पर भारत ने कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के इस्तेमाल को दी मंजूरी

1003

भारत से कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर एक बड़ी खबर समाने आई है खबर है कि भारत में सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा बनाई जा रही कोविशील्ड वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी गई। जिसके बाद अब भारत में जल्द ही कोविड-19 की वैक्सीन का टीकाकरण शुरू हो जायेगा।

जानकारी के अनुसार, आज भारत में ऑक्सफोर्ड एस्ट्रेजेनेका की कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड को इमरजेंसी अप्रूवल देने पर विचार किया गया। जिसके बाद सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा बनाई जा रही कोविशील्ड वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी गई। वहीं सरकार के शीर्ष सूत्रों के मुताबिक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) की कोविशील्ड को पैनल से मंजूरी के लिए सिफारिश मिल गई है। लेकिन अभी इस पर अंतिम फैसला DCGI  द्वारा लिया जाना है।इसी के साथ इस बैठक में फाइजर, भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट तीनों को एक के बाद एक अपना-अपना प्रेजेंटेशन देना था। इस बैठक में जायडस कैडिला भी शामिल हुई है। सीरम इंस्टीट्यूट का प्रेजेंटेशन हो चुका है। जिसके साथ ही कोविशील्ड के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी गई है।

एक्सपर्ट कमेटी की बैठक में अब भारत बायोटेक का प्रेजेंटेशन चल रहा है। फिलहाल भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन पर चर्चा हो रही है। अंत में फाइजर का प्रेजेंटेशन होगा। वहीं 2 जनवरी से देश के हर राज्य में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा। इसकी तैयारियों को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन की अगुवाई में एक बैठक चल रही है। इससे पहले पंजाब, असम, गुजरात और आंध्र प्रदेश में ड्राई रन किया गया था, जिसके रिजल्ट काफी सकारात्मक आए थे। वहीं प्राथमिकता के आधार पर 30 करोड़ लोगों को पहले वैक्सीन दी जाएगी।

आपको बता दें, इस कोरोना वायरस की वजह से दुनियाभर के देशों में कोहराम मचा हुआ है। वहीं इस वायरस की वजह से अभी तक दुनियाभर के देशों 16 लाख से ज्याद लोगों की मौत हो चुकी है साथ ही 6 करोड़ से ज्याद लोग इस वायरस से स्नाक्र्मित हो चुके हैं। वहीँ भारत में इस कोरोना वायरस की वजह से 1 लाख से ज्याद लोगों की मौत हो चुकी है साथ ही 1 करोड़ से ज्याद ओग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं।