कोरोना वायरस से लड़ने के लिए आगे आया भारत, UAE को देगा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा

2764

इस समय सभी देश कोरोना वायरस महामारी का कहर झेल रहे हैं। वहीं इस बीच यूनाइटेड अरब अमीरात देश ने भारत से एक बड़ी मदद मांगी है।गल्फ न्यूज़ के मुताबिक संयुक्त अरब अमीरात ने भारत से कोविड19 के इलाज के लिए हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की मदद मांगी है। जिसपर भारत ने उसे हर संभव सहायता का आश्वासन दिया है।

संयुक्त अरब अमीरात ने मलेरिया के खिलाफ काम आने वाली हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा कोरोना वायरस से लड़ने में भी मददगार साबित हो रही है। जिसके बाद भारत कई देशों को इस दवा की सप्लाई कर रहा है। यूएई में भारत के राजदूत पवन कपूर ने कहा है कि वहां की कुछ कंपनियों ने भारत के सामने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन भेजने की अपील की है। इसके बाद इस संदेश को दिल्ली तक पहुंचा दिया गया है। बता दें, भारत ने पिछले दिनों हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की सप्लाई पर लगी रोक हटाई थी और उन देशों को दवा भेजने का वादा किया था, जहां हालात सबसे अधिक खराब हैं।

 

भारत ने अभी तक अमेरिका, जर्मनी, इज़रायल, ब्राजील, नेपाल समेत 13 देशों को यह दवा दी है। वहीं अब भारत जल्द ही यूएई को भी दवा भेजने पर फैसला ले सकता है।

आपको बता दें, हाल ही में UAE के स्वास्थ्य और रोकथाम मंत्रालय ने शुक्रवार को कोरोना वायरस के 477 नए मामलों की घोषणा की। वहीं इसके साथ उन्होंने कोरोना से हुई दो नई मौतो के बारे में भी बताया। इसके उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस से कुल 93 कोस रिकवर भी हुए हैं। मालूम हो कि, देश में कोरोना वायरस संक्रमण की कुल संख्या 6,302 हो गई है। जिसमें 1,188 कोरोना वायरस मरीज पूरी तरह से रिवकर हो गए है। वहीं दुनिया भर में इस समय कोरोनावायरस के संक्रमण से 20 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हैं जबकि इस वायरस की वजह से 1 लाख से ज्यादा लोगों की इस वायरस की वजह से मौत हो चुकी है।