कौन हैं रिंकू सिंह, कभी मिली थी झाड़ू लगाने की नौकरी, BCCI ने भी लगाया बैन; लेकिन हौसले आज भी बुलंद

इंडियन प्रीमियर लीग 2022 में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हुए उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले रिंकू सिंह (Rinku Singh) ने कमाल का प्रदर्शन किया है। उन्होंने पिछले मुकाबले में लखनऊ सुपरजाइंट्स (LSG) के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी करते हुए सबके दिलों में जगह बनाई है, हालांकि अपना आखिरी लीग मुकाबला हार कर केकेआर की टीम टूर्नामेंट से बाहर हो गई है।

आईपीएल के 66 वें हुए मुकाबले में रिंकू सिंह (Rinku Singh) ने सिर्फ 15 गेंदों पर 40 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली। उनकी इस पारी की बदौलत कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की टीम लखनऊ द्वारा दिए गए लक्ष्य 211 रनों के करीब पहुंच गई थी मगर उसे अंत में 2 रनों से हार का मुंह देखना पड़ा।

रिंकू सिंह (Rinku Singh) मूल रूप से उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जनपद के निवासी हैं। उनका सफर काफी कठिन रहा है। रिंकू सिंह (Rinku Singh) पांच भाइयों और बहनों में नंबर तीन पर आते हैं। उनके पिता गैस सिलेंडर डिलीवरी का काम करते थे जबकि उनकी एक भाई ऑटो चला कर जीवन यापन करते हैं।

टूर्नामेंट में पुरस्कार के रुप में जीती थी बाइक

साल 1997 में 12 अक्टूबर को जन्मे रिंकू सिंह (Rinku Singh) बचपन से ही क्रिकेटर बनने का ख्वाब देखने लगे थे। मगर इसकी वजह से उनके ऊपर आर्थिक दबाव बढ़ने लगा था। जिसके चलते उन्होंने नौकरी करने का निर्णय लिया था, हालांकि कम पढ़े लिखे होने के नाते उन्हें झाड़ू पोछा करने का काम मिला था।

मगर रिंकू सिंह (Rinku Singh) को यह काम पसंद नहीं आया और उन्होंने छोड़कर क्रिकेट पर फोकस करने का मन बनाया। दिल्ली में खेले गए टूर्नामेंट के दौरान उन्हें पुरस्कार में बाइक मिली थी।

साल 2014 में यूपी के लिए किया था लिस्ट ए में डेब्यू

Rinku Singhहोनहार खिलाड़ी रिंकू सिंह (Rinku Singh) को साल 2014 में उत्तर प्रदेश के लिए लिस्ट ए के मुकाबले में डेब्यू करने का मौका मिला था। 2 साल बाद उन्हें पंजाब किंग्स के खिलाफ फर्स्ट क्लास मुकाबला खेलने का चांस मिला।

इस प्रतिभावान क्रिकेटर ने अब तक 30 फर्स्ट क्लास मुकाबले के ऊपर पांच शतक और 16 अर्धशतकों की बदौलत 2307 रन बनाए हैं।

2022 के मेगा ऑक्शन में केकेआर ने दी थी इतनी रकम

इंडियन प्रीमियर लीग 2022 की शुरुआत से पहले फरवरी महीने में आयोजित की गई मेगा नीलामी में इस खिलाड़ी को केकेआर की टीम ने 55 लाख रुपए देकर अपने साथ जोड़ा था, हालांकि साल 2017 के मेगा ऑक्शन में पंजाब किंग्स ने 10 लाख रुपए दिए थे। मगर उस दौरान इन्हें सिर्फ एक मुकाबला ही खेलने का मौका मिला था।

साल 2019 में बीसीसीआई लगा चुकी है 3 महीने का बैन

उत्तर प्रदेश के रिंकू सिंह (Rinku Singh) ने साल 2019 में बगैर अनुमति के दुबई में खेली जाने वाली रमजान T 20 लीग में हिस्सा लिया था। जिसके चलते बीसीसीआई ने इनके खिलाफ कठोर कार्रवाई करते हुए 3 महीने के लिए प्रतिबंधित किया था।

गौरतलब है कि केकेआर का सफर अब इस टूर्नामेंट में थम चुका है। ऐसे में बात करें अगर इस क्रिकेटर द्वारा किए गए वर्तमान सत्र में प्रदर्शन की तो रिंकू सिंह को इस सत्र में अब तक 7 मैच खेलने का मौका दिया गया।

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में रिंकू सिंह नंबर पांच पर आते हैं। उन्होंने कोलकाता के लिए साल 2022 के आईपीएल में 174 रन बनाए हैं।

ये भी पढ़ें- PBKS vs RCB के बीच में बने कुल 18 रिकाॅर्ड, ऐसा करने वाले IPL के पहले खिलाड़ी बने विराट कोहली