विश्व कप में गोल्डन बैट जीतने वाले 3 भारतीय बल्लेबाज, एक खिलाड़ी अभी भी टीम इंडिया के लिए खेल रहा

352
गोल्डन बैट

क्रिकेट के क्षेत्र में कैरियर बनाने वाले हर युवा का सपना होता है कि वह राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व करें। जब उसका यह सपना पूरा हो जाता है तो उसकी महत्वकांक्षाएं बढ़कर अपनी टीम के लिए वर्ल्ड कप खेलनी की होती हैं। भारत की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम में जगह बनाने के लिए युवा क्रिकेटरों को काफी संघर्ष झेलना पड़ता है और अगर भी टीम में जगह बना भी लेते हैं तो विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंट के लिए सभी खिलाड़ियों को मौका नहीं मिल पाता है।

बाकी जो खिलाड़ी वर्ल्ड कप के लिए टीम में चुने जाते हैं वे काफी भाग्यशाली होते हैं और इतना ही नहीं उनमें से कुछ खिलाड़ी ऐसे होते हैं जो वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में अपने देश के लिए गोल्डन बैट या गोल्डन बॉल का पुरस्कार जीतते हैं। टीम इंडिया के कई ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने गोल्डन बैट का पुरस्कार अपने नाम किया है।

टीम इंडिया ने क्रिकेट इतिहास में अब तक कुल 2 बार आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप अपने नाम किया है, जो कि एक बार उसे फाइनल मुकाबले में आस्ट्रेलिया के हाथों कड़ी हार झेलनी पड़ी थी। वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में कई बार भारतीय खिलाड़ियों ने सबसे अधिक रन बनाकर देश को गौरवान्वित किया। इसी कड़ी में हम उन तीन खिलाड़ियों की यहां पर चर्चा करेंगे जो विश्व कप में सबसे अधिक रन बनाकर गोल्डन बैट जीतने में कामयाब रहे हैं।

वनडे विश्वकप में गोल्डन बैट जीतने वाले खिलाड़ी

1-सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar)

क्रिकेट इतिहास में सचिन तेंदुलकर इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने टेस्ट और वनडे दोनों मिलाकर कुल 100 शतक लगाए हैं। सचिन तेंदुलकर को पूरी दुनिया में क्रिकेट के भगवान के नाम से जाना जाता है।

सचिन तेंदुलकर ने भारत के लिए साल 1996 के विश्व कप में सबसे अधिक रन बनाए।उस दौरान उनके बल्ले से सात मुकाबलों में कुल 523 रन निकले थे। जिसमें 2 शतक और 3 अर्धशतक भी शामिल थे। उस दौरान उन्होंने सबसे अधिक रन बनाकर गोल्डन बैट हासिल किया था।

2-राहुल द्रविड़

वर्तमान समय में टीम इंडिया के हेड कोच की जिम्मेदारी संभाल रहे राहुल द्रविड़ को टेस्ट क्रिकेट की दीवार के नाम से पुकारा जाता था।और जब यह खिलाड़ी विकेट पर बल्लेबाजी करने आता था तो गेंदबाजों के लिए सबसे मुश्किल काम इस खिलाड़ी को पवेलियन भेजना होता था।

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने साल 1999 के वर्ल्ड कप में गोल्डन बैट हासिल किया था।उस दौरान उन्होंने आठ मुकाबले खेल कर कुल 461 रन बनाए थे इस दौरान उनके बल्ले से 2 शतक और 3 अर्धशतक भी निकले थे।

अगर उस दौरान उनकी सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर की बात करें तो उन्होंने एक मुकाबले में कुल 145 रन बनाए थे। और उस वर्ल्ड कप में तीन व्यक्तिगत उच्च स्कोर में सभी भारी थी खिलाड़ियों के नाम शामिल थे। जिनमें सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर थे।

3-रोहित शर्मा

वर्तमान में भारतीय क्रिकेट टीम के तीनों फॉर्मेट में टीम की कप्तानी संभालने वाले रोहित शर्मा पूरी दुनिया में अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं।

साल 2019 में इंग्लैंड की धरती पर खेले गए आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप में उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए आठ मुकाबले खेल कर कुल 648 रन बनाए थे।के दौरान उनके बल्ले से 5 शतक और 1 अर्धशतक भी निकला था जिसके बलबूते हुए गोल्डन बैट पर कब्जा जमाने में सफल हुए थे।

ये भी पढ़ें- IND vs IRE : आयरलैंड के खिलाफ भारतीय टीम में इन 3 खिलाड़ियों का चयन न करना समझ से परे