कुवैत में जन्मी भारतीय एडलिन केस्टलिनो ने जीता सबका दिल, मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में मिला चौधा स्थान

सोमवार को मेक्सिको की एंड्रिया मेजा 69वीं मिस यूनिवर्स का ख़िताब मिला है। वहीं फ्लोरिडा में आयोजित इस कार्यक्रम में कुवैत में जन्मी भारत की एडलाइन कास्टेलिनो इस प्रतियोगिता में चौथे स्थान पर आई है।

जानकारी के अनुसार, कर्नाटक के उडुपी में जन्मी 22 वर्षीया एंड्रिया मेजा ने इस साल मिस यूनिवर्स में भारत की प्रतिनिधि बनकर मिस दिवा 2020 का खिताब जीता है। वहीं इस प्रतियोगिता में कैस्टेलिनो जिसका जन्म कुवैत सिटी में 21 मई 1998 को मंगलोरियन कैथोलिक माता-पिता अल्फोंस और मीरा कैस्टेलिनो के घर हुआ था। वो चौथे स्थान पर आई है।

कुवैत में रहते हुए, कैस्टेलिनो इंडियन सेंट्रल स्कूल में छात्र थी। वहीं जब वह हाई स्कूल के लिए 15 वर्ष की थी, तब वह मुंबई चली गई और अंततः उसने वहां अपनी उच्च शिक्षा प्राप्त की और विल्सन कॉलेज से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में डिग्री के साथ स्नातक किया।

इसी के साथ रैंप वॉक करने के अलावा, एडलाइन कैस्टेलिनो सामाजिक कार्यों और पहलों में भी शामिल हैं। कैस्टेलिनो ने कल्याणकारी संगठन ‘विकास सहयोग प्रतिष्ठान’ (वीएसपी) के साथ काम किया है, जो “ग्रामीण गरीबों, भूमिहीन या सीमांत किसानों, सं’कट’ग्र’स्त किसानों और महिलाओं को रणनीतिक रूप से डिज़ाइन किए गए हस्तक्षेपों के माध्यम से वित्तीय, तकनीकी और संस्थागत सहायता प्रदान करता है।”

कैस्टेलिनो ने भारत 2020 में COVID-19 लॉकडाउन के दौरान भी अपनी भूमिका निभाई, कथित तौर पर डिज़ायर सोसाइटी को भोजन, फेस मास्क और अन्य आवश्यक चीजें प्रदान की, जो एच’आईवी से सं’क्र’मित बच्चों की मदद करती है। वहीं भारत के एडलाइन कास्टेलिनो फ्लोरिडा में आयोजित मिस यूनिवर्स प्रोग्राम में चौथे स्थान पर आई है।

Leave a Comment