हिंदू धर्म में मकर संक्रांति के त्योहार को काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। इस त्यौहार का एक अलग ही महत्व है। इस दिन लोग पूजा-पाठ, स्नान और दान करते हैं।हिंदू मान्यता के अनुसार, मकर सक्रांति के दिन अगर कोई दान करता है तो कई संकट दूर हो जाते हैं। इससे घर में खुशहाली, समृद्धि और विकास आता है। ऐसे में जो लोग मकर संक्रान्ति के दिन गरीबों और जरूरतमंद को दान करते हैं।

उनकी मनमुताबिक मुरादे पुरी होती है। इसके अलवा जिन व्यक्तियों के जीवन में काफी परेशानियां चलती है और वह मानसिक तनाव में रहते हैं और उनकी घर की हालत अच्छी नहीं होती है। उन लोगों को मकर संक्रांति के दिन जरूर दान करना चाहिए। इससे जीवन में चल रही परेशानियां से निजात मिलता है।

images

मकर सक्रांति के दिन करना चिए तुला दान-हिंदू मान्यता के अनुसार मकर संक्रांति के दिन तुला दान करने की परंपरा है। तुलादान ऐसे लोग करते हैं जो लंबे समय से परेशानियों में चलते हैं और उन्हें अपने परिवार के सदस्यों का सहयोग नहीं मिल पाता है। इसके अलावा ऐसे लोग मेहनत भी करते हैं तो उसका पर्याप्त फल नहीं मिलता और सफलता नहीं मिलती है। यही वजह है हिंदू मान्यता के अनुसार मकर सक्रांति के दिन तुला दान करने की सलाह दी जाती है। कहा जाता है तुला दान में व्यक्ति को अपने वजन के बराबर अनाज को दान करना चाहिए।

ऐसा करने से सुख समृद्धि आती है और सभी परेशानियां दूर होती है। ऐसे में आदमी अगर मेहनत भी करता है तो उसकी फल उसको मिलता है।खिचड़ी और चावल का करे दानहिंदू मान्यता के अनुसार, काली उड़द और चावल का दान करना मकर संक्राति के दिन काफी शुभ माना जाता है। बता दें काली उड़द और चावल के साथ दान करने के दौरान इस बात का जरूर ध्यान देना चाहिए कि दोनों वस्तुओं का अनुपात बराबर बराबर होना चाहिए। वहीं मान्यता के अनुसार,bअगर किसी के जीवन में अधिक परेशानी है तो वह दाल की मात्रा बड़ा सकता है। ऐसा करने से उसके जीवन में चल रही दिक्कत कम हो जाती हैं।