इस रविवार सोशल मीडिया को अलविदा कह सकते हैं PM मोदी, ट्वीट कर कहीं ये बात

1408

New Delhi:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अपने सभी सोशल मीडिया यूजर्स को सरप्राइज करते हुए एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में पीएम नरेंद्र मोदी ने ये कहा कि वह एक सप्ताह में अपने ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम और यूट्यूब अकांउट को छोड़ने के बारे में सोच रहे थे। हालांकि उन्होंने ऐसा करने के पीछे का कारण नहीं बताया है। बता दें कि पीएम मोदी के सोशल मीडिया पर काफी बड़ी फैन फॉलोविंग हैं।

पीएम मोदी के ट्विटर पर 53.3 मिलियन हैं, वहीं फेसबुक पर 44 मिलियन, इंस्टाग्राम पर 35.2 मिलियन और यूट्यूब पर 4.5 मिलियन फॉलोवर्स है। ये बात हर कोई जानता हैं कि पीएम मोदी सोशल मीडिया पर सबसे अधिक फॉलो किए जाने वाले विश्व नेताओं में से एक हैं। 2014 में पदभार संभालने के बाद से एक भी प्रेस कांफ्रेंस नहीं करने वाले प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया पर अपने समर्थकों के साथ सीधे संवाद करने पर गर्व किया है।

2009 में ट्विटर और फेसबुक से जुड़ने के बाद से सुपर एक्टिव प्रफोर्मेंस के साथ, उन्होंने अपनी हर पोस्ट को शेयर करने के कुछ मिनटों के भीतर ही हजारों ‘लाइक’ और कमेंट पाए है। हालांकि, दिल्ली में हाल ही में हुई हिंसा जैसे कांटेदार विषयों से बचने के लिए उनकी कभी-कभी आलोचना की गई, जिसके तीन दिनों के बाद उन्होंने अपनी पहली प्रतिक्रिया दी।

सोशल मीडिया छोड़ने के बारे में उनकी घोषणा के बारे में 30 मिनट के भीतर 30,000 लाइक, 16,000 जवाब और 10,000 रीट्वीट मिले। पीएम मोदी की पोस्ट ने निराशा, घबराहट और व्यंग्यात्मक जवाबों की एक अंतहीन धारा को अपने दोषियों से हटा दिया। ज्यादातर लोगों ने उनके इस ट्वीट पर कमेंट करते हुए लिखा “नो सर” ऐसे लगभग 23,000 ट्वीट्स के साथ ये ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है।

उनके समर्थकों में से एक ने लिखा, “क्यों साहब? यह आपके संपर्क में रहने का एकमात्र तरीका है। हम जानते हैं कि आप हाल की स्थिति से पीड़ित हैं, लेकिन कृपया ऐसा न करें। हम सभी जानते हैं कि यह चरण आगे बढ़ेगा। आप हमारे समर्थक हैं। हमें आपसे ताकत मिली। आप हमारी सबसे बड़ी प्रेरणा हैं।