सरफराज अहमद ने 8 साल बाद जड़ा टेस्ट में शतक, 10वें नंबर के बल्लेबाज ने टाली पाकिस्तान टीम की हार
सरफराज अहमद ने 8 साल बाद जड़ा टेस्ट में शतक, 10वें नंबर के बल्लेबाज ने टाली पाकिस्तान टीम की हार

सरफराज अहमद ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम में 4 साल बाद वापसी की हैं। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में न केवल अपनी टीम को एक और हार से बचाया बल्कि 8 साल बाद पहला टेस्ट शतक जमा कर अपनी वापसी को शानदार बनाया।

शतक का सूखा किया खत्म, खुद को मिले मौके का उठाया भरपूर फायदा

सरफराज अहमद ने जबसे वापसी की वह शानदार नजर आ रहे है। उन्होंने पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ 86 और 78 रन बनाए। पर वह शतक तक नहीं पहुंच पा रहे थे। पर कराची में इस टेस्ट में उन्होंने शतक का सूखा खत्म किया। साथ ही टीम को एक शर्मनाक हार से बचाया।

ये भी पढ़ें- Steve Smith ने ध्वस्त किया डॉन ब्रैडमैन का बड़ा रिकॉर्ड, फिर भी इस मामले में रिकी पोटिंग से रह गए पीछे

ये टेस्ट क्रिकेट में सरफराज अहमद का चौथा शतक था। अपना शतक पूरा करते ही अहमद बड़े खुश नज़र आए। उन्होंने जमकर सेलिब्रेट किया।

कुछ समय पहले तक लगने लगा था कि 35 वर्षीय ये खिलाड़ी अब शायद ही पाकिस्तान की टीम ने कभी जगह बना पाए। पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड में शहीद अफरीदी की एंट्री और मोहम्मद रिजवान के खराब फॉर्म ने उन्हें एक बार फिर जगह दिलाई। उन्होंने भी इस मौके का भरपूर फायदा उठाया।

80 रन पर पाकिस्तान ने खो दिए थे 5 विकेट, सरफराज के शतक और 10 वें नंबर के बल्लेबाज ने टाली पाकिस्तान की एक और हार

319 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की टीम ने मात्र 80 रन पर अपने 5 विकेट गवां दिए थे। ऐसा लग रहा था की टीम को एक और हार का सामना करना पड़ेगा।

ऐसे समय ने सरफराज टीम के एकल योद्धा साबित हुए। उन्होंने 118 रन की पारी खेल न केवल टीम को हार से बचाया। एक बार ऐसा भी लगने लगा कि पाकिस्तान की टीम ये मैच जीत भी सकती है।

287 रन पर सरफराज अहमद का विकेट गिरने के बाद पाकिस्तान के दसवें नंबर के बल्लेबाज नसीम शाह 15* ने पाकिस्तान की हार टाली। वह जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे थे लग रहा था कि टीम ये मैच जीत भी सकती है। पर खराब रोशनी के चलते मैच तीन ओवर पहले ही रोक दिया गया। इस समय पाकिस्तान का स्कोर 304/9 था।

यहां ये भी गौर करने वाली बात है कि 51 टेस्ट खेलने वाले सरफराज की ये पाकिस्तान में पहली टेस्ट सीरीज थी। इतना ही नहीं वह अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में 6000 रन पूरे करने वाले दूसरे पाकिस्तानी विकेटकीपर भी बने। सरफराज न केवल मैन ऑफ द मैच रहे बल्कि उन्हें मैन ऑफ द टूर्नामेंट का भी खिताब मिला।

ये भी पढ़ें- IND vs SL : 5 कारण, जिसके चलते श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टी20 में टीम इंडिया को मिली शर्मनाक हार; आखिरी सबसे अहम