skip to content
Posted inखेल

PAK vs ENG: इंग्लैंड से हार के बाद बहाना ढूंढते दिखे बाबर आजम, सीधे तौर पर इन्हें माना हार का जिम्मेदार

PAK vs ENG: पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड ने यह सीरीज 3-0 से अपने नाम कर ली है। इसी दौरान इंग्लैंड टीम ने यह सीरीज जीतते हुए इतिहास रच दिया है।इंग्लैंड इकलौती ऐसी टीम बन गई है जिसने पाकिस्तान को टेस्ट सीरीज में क्लीनस्वीप किया हो।

बता दें कि इंग्लैंड ने 17 साल बाद पाकिस्तान का दौरा करते हुए यह सीरीज अपने नाम की है। वही इस सीरीज में हार के बाद पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने अपने बेस्ट गेंदबाजों के सीरीज में ना होने का बहाना दिया है।

पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड के बीच सीरीज का आखिरी मैच कराची में खेला गया था जिसे इंग्लैंड ने 8 विकेट से जीत लिया। इस सीरीज में हार के बाद पाकिस्तान टेस्ट कप्तान से बाबर आजम को हटाए जाने की भी मांग उठ रही है।

बाबर आजम ने कहा हार से टीम में घोर निराशा

आखिरी टेस्ट मैच में पाकिस्तान की हार के बाद कप्तान बाबर आजम ने कहा कि, “टीम के तौर पर उन्हें एक बार फिर घोर निराशा मिली है।

सीरीज़ में हम कभी भी बेहतर नहीं खेल पाए। ऐसा कभी लगा ही नहीं कि हम बाउंस बैक करने की स्थिति में है। लगातार हम एक के बाद एक विकेट खोते गए थे। बल्लेबाजी में भी हम पार्टनरशिप नहीं कर पाए जिसका खामियाजा हमें इस सीरीज में 3-0 से हार कर भुगतना पड़ रहा है।”

ये भी पढ़ें- रणजी ट्रॉफी में 20 साल के बल्लेबाज ने मचाया धमाल, कूट डाले 161 रन, अब ठोका टीम इंडिया का दरवाजा

बेस्ट पेसर नहीं तो जीतेंगे कैसे

देखा जाए तो हार के बाद हर कप्तान कुछ ना कुछ बहाने बनाता ही है। ऐसा ही पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने भी इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में क्लीनस्वीप होने के बाद बहाना बनाया है। कप्तान बाबर आजम ने कहा कि, “बोलिंग के कारण हम सीरीज में हारे, जो हमारे बेस्ट पैसर थे। वह चोट के कारण इस सीरीज में शामिल नहीं हो पाए, जिनका हमें काफी नुकसान भुगतना पड़ा।”

जानकारी के लिए बता दे कि कप्तान ने पाकिस्तान के जिन बेस्ट पेसर कि बात की। उनमें हारीस रऊफ,नसीम शाह और शाहीन शाह अफरीदी का नाम आता है। यह तीनों ही गेंदबाज कराची टेस्ट में टीम के साथ नहीं थे। इससे पहले कि टेस्ट में नसीम शाह खेलते हुए दिखाई दिए थे परंतु उस समय भी पाकिस्तान टीम की हालत बेहद खराब है।

इसके अलावा पहला टेस्ट मैच जो रावलपिंडी में खेला गया था उसमें हरीस ने अपना डेब्यू किया था परंतु वह भी बेअसर ही रहे थे इसी के साथ पहले टेस्ट मैच में वह चोटिल भी हो गए थे।

टेस्ट कप्तानी छोड़ने के मूड में नहीं है बाबर आजम

बाबर आजम की टीम का फायदा सबसे ज्यादा बेन स्टोक्स की टीम ने उठाया। मान लिया जाए कि पाकिस्तान टीम के पास पैसर नहीं थे परंतु बाबर आजम की कप्तानी भी सीरीज में कुछ खास नहीं रही पूरी सीरीज में बाबर आजम कप्तानी के दौरान सही निर्णय नहीं ले पाए। हालांकि इसके बाद भी बाबर आजम टेस्ट कप्तानी छोड़ने के मूड में नहीं दिखाई दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें : IPL 2023 के नीलामी में बेन स्टोक्स के लिए कौन सी टीम लगाएगी सबसे बड़ी बोली? रविचंद्रन अश्विन ने की भविष्यवाणी