skip to content
Posted inखेल

आरसीबी का खिलाड़ी बना हीरा, 210 के स्ट्राइक से बल्ले से मचाया कहर, 3 गगनचुंबी छक्के भी जड़े

आईपीएल के अपने पहले खिताब का इंतजार कर रही रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु (आरसीबी) ने आगामी आईपीएल सीजन से पहले एक ऐसे खिलाड़ी को रिटेन किया था जो अब मैदान पर जमकर चौकों छक्कों की बारिश कर रहा है।

यानी इस खिलाड़ी ने यह बता दिया है कि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) ने इन्हें रिटेन कर जो भरोसा जताया है। वह उस पर खरे उतर रहे हैं।

दरअसल हम बात कर रहे हैं न्यूजीलैंड के बल्लेबाज फिन एलन की। जो इस समय न्यूजीलैंड में सुपर स्मैश टूर्नामेंट में धमाकेदार प्रदर्शन कर रहे हैं। फिन एलेन की शानदार पारी की बदौलत उनकी टीम वेलिंगटन ने कैंटरबरी को 8 विकेट से शिकस्त दी है।

मैच में कैंटरबरी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया था हालांकि कप्तान का यह निर्णय सही साबित नहीं हो पाया। ओर टीम 20 ओवर में 8 विकेट खोकर केवल 132 रन ही बना पाई जिसके बाद वेलिंगटन ने महज 11.5 ओवर में ही यह लक्ष्य अपने नाम कर लिया।

ये भी पढ़ें- 3 साल से टीम इंडिया में वापसी का कर रहा इतंजार, वर्ल्ड कप का भी रह चुका हिस्सा, फिर भी नहीं मिल रहा मौका

210 के स्ट्राइक रेट से बनाए रन

पहले बल्लेबाजी करते हुए कैंटरबरी बड़ा स्कोर नहीं खड़ा कर पाई। वही जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेलिंगटन को मैच जीतने में जरा भी मुश्किल नहीं आई।

फिन एलन ने इस दौरान सबसे पहले निक केली के साथ 58 रनों की पार्टनरशिप की परंतु फिर निक 12 गेंदों पर 24 रन बनाकर ही पवेलियन लौट गए, हालांकि फिन एलन ने दूसरा छोर संभाले रखा और तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी करते रहे।

वहीं फिन एलन का विकेट 123 के स्कोर पर गिरा। इस दौरान फिन एलन ने 35 गेंदों में 3 छक्के और 9 चौके लगा दिए थे। जब वह आउट हुए तब उनकी टीम केवल जीत से 10 रनों से दूर थी जिसके बाद जॉनसन और रचिन रविंद्र ने टीम को जीत दिलाई। इस दौरान जॉनसन 9 रन बनाकर नाबाद रहे।

ऐसी रही कैंटरबरी की बल्लेबाजी

कैंटरबरी के कप्तान का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला गलत साबित हुआ। ना ही टीम को अच्छी शुरुआत मिल पाई और ना ही टीम एक बेहतर स्कोर बना पाई।

वोक्स पहले ही गेंद पर वह अपना विकेट देते चले तो वही लियो कोर्टर भी 3 रन बनाकर पवेलियन लौट गए उसके बाद मैथ्यू बायले मैदान पर आए और वह भी 6 रन से आगे नहीं जा सके। उसके बाद कप्तान मेककांची और विकेटकीपर केम फ्लेचर ने टीम को संभालने का प्रयास किया।

इस दौरान कप्तान ने 36 गेंदों पर 35 रन बनाए तो वहीं फ्लेचर ने भी 29 रनों की पारी खेली। हालांकि पूरी टीम मिलकर भी वेलिंग्टन के लिए एक बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर पाई।

यह भी पढ़ें : IPL 2023 के नीलामी में सहवाग के भांजे को मिली बड़ी राशि, इस मामले में विराट कोहली को देते टक्कर