IND vs SA : साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले T20 में ऐसे हो सकती है टीम इंडिया की प्लेइंग-11, देखें संभावित लिस्ट

1014
Team India

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने रविवार को 9 जून से शुरू होने वाली दक्षिण अफ्रीका टी20 सीरीज के लिए बहुप्रतीक्षित टीम (Team India) की घोषणा की। बोर्ड ने केएल राहुल को श्रृंखला के लिए कप्तान के रूप में घोषित किया, जबकि ऋषभ पंत को उप-कप्तान के रूप में घोषित किया गया।

दिनेश कार्तिक को आईपीएल में उनके प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया गया। वह रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए एक फिनिशर के रूप में शानदार फॉर्म में हैं। हार्दिक पांड्या जिन्होंने अपनी पूरी फिटनेस हासिल कर ली है और गेंदबाजी में वापस आ गए हैं, उन्हें भी टीम में जगह मिली है।

जबकि स्पिन विभाग में युजवेंद्र चहल, रवि बिश्नोई, कुलदीप यादव और अक्षर पटेल को चुना गया है। पहली बार उमरान मलिक और अर्शदीप सिंह को भारतीय टीम में शामिल किया गया है। अनुभवी भुवनेश्वर कुमार अपनी जगह बरकरार रखने में सफल रहे हैं जबकि हर्षल पटेल को भी टीम में लिया गया है।

साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहली टी 20ई में ऐसी दिख सकती है भारत (Team India) की प्लेइंग इलेवन

1. के एल राहुल

लखनऊ सुपर जायंट्स के कप्तान इस साल अच्छे फॉर्म में दिख रहें। ऑरेंज कैप टेबल में भी वह दूसरे नंबर पर हैं। अभी तक वह दो शतक लगा चुके है। साथ ही उन्हें टीम के नेतृत्व की जिम्मेदारी भी दी गई है। उनका प्लेइंग इलेवन में बतौर सलामी बल्लेबाज खेलना तय है।

2. ईशान किशन

रोहित शर्मा की गेर मौजूदगी में ईशान किशन को बतौर सलामी बल्लेबाज उतारा जा सकता हैं। ईशान किशन इस साल मुंबई इंडियंस के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहें। साथ ही ईशान और के एल की जोड़ी लेफ्ट एंड राइट हैंड कॉम्बिनेशन भी बनाएगी।

3. दीपक हुड्डा

नंबर तीन में दीपक ने लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए काफी अच्छी बल्लेबाजी की हैं। उन्होंने साथ ही 400 से ज्यादा रन भी बना लिए है। ऐसे में उन्हें इस पोजीशन में उतारा जा सकता है। इतना ही नहीं वह 1 से दो ओवर का कोटा भी पूरा कर सकते है।

4. ऋषभ पंत

इस टी20 स्क्वाड के ऋषभ पंत उपकप्तान भी हैं साथ ही उन्हें नंबर 4 पर उतार ज्यादा गेंदें खेलने का मौका दिया जा सकता है। ऋषभ हाल फिलहाल में अपने स्कोर को बड़े स्कोर में तब्दील करने में न काम रहें हैं। इस सीरीज में वह इसको बदलना चाहेंगे।

5. हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या ने आखिरकार अपना खोया फॉर्म वापिस पा लिया हैं। न केवल वह लाजवाब बल्लेबाजी कर रहें है बल्कि अपने 4 ओवरों का कोटा भी अच्छी तरह से पूरा कर रहें है। हार्दिक को बतौर पिंच हिटर और फिनिशर नंबर पांच में रखा जा सकता है।

6. दिनेश कार्तिक

आईपीएल में अपने शानदार फॉर्म को दिखाते हुए टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी दिनेश कार्तिक ने टीम में फिर अपनी जगह बनाई है । उन्होंने अपना आखिरी टी20ई मुकाबला 2019 में खेला था।

माना जा रहा था कि उनका करियर अब खत्म हो चुका है। पर उन्होंने सब को गलत साबित करके स्क्वाड में फिर जगह बना ली है। उनके अनुभव को देखते हुए उनका प्लेइंग इलेवन में होना तय है।

7. भुवनेश्वर कुमार

भुवनेश्वर कुमार को पॉवर प्ले स्पेशलिस्ट के साथ साथ डेथ ओवर में भी गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। उनके पास टी 20 का ढेर सारा अनुभव हैं। इतना ही नहीं वह थोड़ी बहुत बल्लेबाजी भी कर सकते है।

जिससे बैटिंग लाइन अप को गहराई मिलेगी। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टी 20 में वह भी टीम के प्लेइंग इलेवन में खेलते हुए नजर आ सकते हैं।

8. युजवेंद्र चहल

आईपीएल में अभी तक के पर्पल कैप होल्डर युजवेंद्र का प्लेइंग 11 में होना तय है। वह अपनी जिंदगी के सबसे बेहतरीन फॉर्म में है। उनको खेल पाना हाल फिलहाल में सबके लिए मुश्किल साबित हो रहा है। ऐसे में टीम उनके इस फॉर्म का फायदा उठाना चाहेगी।

9. कुलदीप यादव

कुलदीप यादव ने भी हाल फिलहाल में अच्छा प्रदर्शन किया हैं। टीम कुलचा : कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को साथ में खिलाना चाहेगी। कुलचा की जोड़ी ने हमेशा ही भारतीय टीम के लिए कमाल किया हैं। अब भी उनसे ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद है।

10. अर्शदीप सिंह

अर्शदीप को आईपीएल के प्रदर्शन के चलते अपना मैडेन कॉल अप आया हैं। डेथ ओवर में शायद ही उनसे अच्छी गेंदबाजी किसी और खिलाड़ी ने की हो। इतना ही नहीं वह नियमित अंतराल में विकेट भी चटकाते रहते हैं। ऐसे में उन्हें पहले ही मैच में प्लेइंग इलेवन में जगह मिलने की संभावना है।

11. उमरान मलिक

जम्मू-कश्मीर के इस खिलाड़ी ने अपनी तेज गति से सबको चकित कर दिया हैं। माना जा रहा है कि वह जल्द ही शोएब अख्तर की सबसे तेज गेंद का रिकॉर्ड भी तोड़ सकते हैं। उन्हें लाइन और लेंथ में सुधार करने की जरूरत हैं। जैसे जैसे वह खेलते रहेंगे वैसे वैसे उनके खेल में सुधार आता रहेगा।

माना जा रहा है कि भारतीय टीम में उन्हें ज्यादा से ज्यादा मौका दिया जा सकता है जिससे वह आने वाले समय में टीम के मुख्य गेंदबाज के तौर पर टीम का प्रतिनिधित्व कर सके।

ये भी पढ़ें- ICC WTC Points Table में टीम इंडिया से पीछे है पाकिस्तान की टीम, जानें टॉप पर कौन सी टीम बरकरार