दुबई से भारत भेजा गया उत्तराखंड के कमलेश का श’व, लेकिन इस वजह से एयरपोर्ट से दुबई भेजा वापस

सभी देशो कोरोना वायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। वहीं इस लॉकडाउन की वजह से एक शख्स को आखिरी समय पर अपने वतन की मिट्टी नसीब ना हो पाई।

दरअसल, भारत का एक नागरिक दुबई में नौकरी करता था। वहीं दुबई में कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन के बीच उसकी हा’र्ट अटै’क से मौ’त हो गई। जिसके बाद इस शख्स के श’व को भारत भेजने की तैयारी की गयी लेकिन एयरपोर्ट से ही उसके श’व को वापस दुबई भेज दिया गया।

दैनिक जागरण के वेब पोर्टल के अनुसार, दुबई में जिस शख्स की मौ’त हुई है उसका नाम कमलेश भट्ट है और वो उत्तराखंड के टिहरी जिले के सकलाना पट्टी में सेमवाल गांव का निवासी था और उसकी मौ’त 16 अप्रैल को लॉकडाउन के बीच हुई। वही उसकी मौ’त के बाद दुबई में रह रहे सामाजिक कार्यकर्ता रोशन रतूड़ी के प्रयासों से 23 अप्रैल की रात उसके श’व को वापस भेजने की तैयारी शुरू हुई।

दुबई के आबूधाबी एयरपोर्ट से कमलेश के श’व हवाई जहाज से रवाना किया गया और फिर वो दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर आया वहीं कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते कमलेश के श’व को एयरपोर्ट पर नही उतारा गया। जिसके बाद श’व को दोबारा दुबई भेज वापस दिया गया।वहीं इस वजह से उसके परिजन निरा’श हो गए और उन्होंने कमलेश का श’व वापस लाने की मांग की है। वहीं जब तक लॉकडाउन नही खुलता तब कमलेश का श’व वापस आने की उम्मीद नजर नहीं आ रही है। आखिरी समय पर वो देश तो आया लेकिन उसे अपनी धरती पर उतरने नहीं दिया ।

आपको बता दें, देश में कोरोना वायरस की वजह से दूसरी बार लॉकडाउन लगाया है और ये लॉकडाउन 3 मई तक है वहीं इस कोरोना वायरस की वजह से अभी तक भारत में 600 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और 26 हज़ार से ज्यादा लोग इस वीरू से संक्रमित हो चुके हैं।

Leave a Comment