वो मुकाबला जब वीरेंद्र सहवाग ने ठोका था वनडे में दोहरा शतक, 25 चौके और 7 छक्के जड़ मचाया था गदर

172
Virendra Sehwag

टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग (Virendra Sehwag) अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाजों में शुमार किए जाते थे। Virendra Sehwag इसलिए भी फैंस के दिल में आज भी जगह बनाए हुए हैं क्योंकि वह जितनी देर भी क्रीज पर रहते थे वे इतनी देर चौकों और छक्कों से फैंस का मनोरंजन करते रहते थे।

उन्होंने अपने क्रिकेट कैरियर के दौरान कई बार बड़ी पारियां खेली। लेकिन अगर उनमें से एक पारी की बात की जाए जो उन्होंने 219 रनों की विंडीज के खिलाफ खेली तो बात कुछ अलग हो जाती है। Virendra Sehwag ने भारत के लिए सचिन तेंदुलकर के बाद वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक लगाया था।

पूर्व दिग्गज ओपनर खिलाड़ी Virendra Sehwag ने उस दौरान दोहरा शतक लगाने में कामयाबी पाई थी। किसी भी टीम के बल्लेबाज दोहरा शतक के बारे में ना सोच कर सिर्फ शतक बनाने पर ही फोकस करते थे। उस दौर में भी वीरेंद्र सहवाग के बल्ले से ताबड़तोड़ रन बरसते थे।

इंदौर के होल्कर स्टेडियम में सहवाग ने लगाया था दोहरा शतक

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज Virendra Sehwag ने 8 दिसंबर को अपना दोहरा शतक इंदौर के होल्कर स्टेडियम में बनाया था। उस दौरान उनके बल्ले से 150 गेंदों पर 219 रनों की पारी के दौरान 7 छक्के और 25 चौके निकले थे।

वीरू के इस दोहरे शतक से पहले सचिन तेंदुलकर ही एकमात्र ऐसे खिलाड़ी थे जिन्होंने वनडे में दोहरा शतक लगाने में कामयाबी पाई थी। वीरेंद्र सहवाग ने विंडीज के खिलाफ 219 रनों की पारी खेलकर स्टेडियम के चारों तरफ आकर्षक शॉट लगाए थे।

Virendra Sehwag को पहले ही हो गया था दोहरे शतक के बारे में पता

विंडीज के खिलाफ मुकाबले में 219 रनों की पारी खेलने वाले Virendra Sehwag ने मैच के बाद बात करते हुए कहा था,” जब पावर प्ले शुरू हुआ था उसके बाद ही मुझे लगा कि मैं डबल सेंचुरी बना सकता हूं। जब सैमी ने मेरा कैच ड्रॉप किया था तब तो मैं बिल्कुल समझ गया था कि भगवान मेरे साथ है।”

153 रनों से भारत में हासिल की थी जीत

विंडीज के खिलाफ Virendra Sehwag ने अपने बल्ले से तूफान लाते हुए 150 गेंदों पर 219 रन बनाए थे। उनकी इस मैराथन पारी से भारत में विंडीज के सामने जीत के लिए 419 रनों का लक्ष्य रखा था। जिसका पीछा करते हुए विंडीज की टीम 265 रन पर ऑल आउट हो गई थी। भारतीय टीम ने इस मुकाबले को 153 रनों से जीता था।

ये भी पढ़ें- रोहित शर्मा के हाथ लगे युवी और धोनी जैसे 2 धुरंधर खिलाड़ी, अब T20 वर्ल्ड कप जीतने की भारत बनी प्रबल दावेदार