95 दिनों से दुबई में फंसे हुए थे 188 लोग, चार्टर्ड विमान से भारत पहुंचते ही सभी की आंखों से निकलने लगे खुशी के आंसू

कोरोना वायरस महामारी और उसे रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन की वजह से महाराष्ट्र के 188 नागरिक पिछले 95 दिनों से दुबई में फंसे हुए थे। काफी लंबी जद्दोजहद के बाद इन महाराष्ट्र के लोगों को बीते रविवार के दिन वापस भारत लाया गया। इन्हें स्पेशल चार्टेड विमान के जरिए वापस लाया गया।हालांकि अब भारत लौटने के बाद इन लोगों को 14 दिनों तक लिए अपने खर्चे पर क्वारंटाइन में रहना होगा।

जब दुबई की एयरलाइंस फ्लाई पुणे इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर लैंड हुई, वैसे ही फ्लाइट में बैठे भारतीय पैसेंजर्स मे भगवान गणेश की जयकारा लगाते हुए चिल्लाकर एक साथ कहा कि ‘मंगल मूर्ति मोरया, गणपति बप्पा मोरया’ और छत्रपति शिवाजी महाराजा की जयकारे के नारे लगाना शुरू कर दिया। इसके साथ ही भारत वापस आए  सभी 188 भारतीयों की आंखों से खुशी के आंसू निकलने लगे थे।

दुबई के एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी की ओनर धनाश्री वाघ भी अपने परिवार में एक आपातकालीन की वजह से पुणे वापस आई है। धनाश्री ने फ्लाइट की उड़ान भरते टाइम और फ्लाइट के पुणे इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी, इस सब काम के दौरान उनके दिल में देश भक्ति की भावना एक अलग स्तर पर थी।

जानकारी के लिए आपको बता दें, इसके पहले  एयरलाइंस फ्लाइ दुबई की एक और चार्टर्ड फ्लाइट शनिवार को इतनी ही गिनती के लोग को लेकर मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरी थी।

दुबई से चार्टर्ड फ्लाइट में भारत आने वाले ऐसे ही एक और पैसेंजर, जो कि 37 साल के किशोर शेट्टी ने बताया कि उनकी मां की मौ’त हो गई थी। उन्हें मीरा रोड के थुंगा अस्पताल में भर्ती करवाया था। बता दें कि किशोर दुबई के एक लॉ फर्म में काम करते है।