Karwa Chauth 2020: जानें कब निकलेगा करवा चौथ का चांद और क्या है पूजा करने का शुभ मुहूर्त

इस साल करवा चौथ का त्योहार 4 नवंबर बुधवार को मनाया जा रहा है। करवा चौथ का त्यौहार हर साल कार्तिक महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है। पूरा भारत जानता है कि इस दिन शादीशुदा महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए पूरे दिन बिना कुछ खाए – पिए निर्जला व्रत रखती है, और रात में चंद्रोदय होने के बाद उसकी पूजा कर के ही अपना व्रत खोलती है।

तो चलिए आज आपको बता दें कि इस बार करवा चौथ का चांद किस टाइम पर आसमान में निकलेगा और क्या है पूजा करने का सही शुभ मुहूर्त होगा। बता दें कि इस बार करवा चौथ के पूजा करने का मुहूर्त शाम 17:33:28 से लेकर 18:39:14 तक रहने वाला है। वहीं आसमान में करवा चौथ का खूबसूरत चांद 20:11:59 बजे पर निकल जाएगा।

 

जानकारी के लिए बता दें कि करवा चौथ का व्रत सूर्योदय से पहले सुबह के 4 बजे के बाद शुरू हो जाता है। करवा चौथ के त्योहार के दिन सरगी का बहुत ही खास महत्व होता है। इस दिन सभी सुहागिन औरते अपनी सास से मिली सरगी को ही खा कर ही अपने व्रत की शुरूआत किया करती है। इसके बाद फिर सभी महिलाएं रात को चांद निकलने तक निर्जला व्रत रखा करती है।

करवा चौथ के मौके पर औरते शाम के समय में एक मिट्टी की वेदी पर सभी देवी – देवताओं की स्थापना की जाती है। करवा चौथ के मौके पर चांद निकलने से पहले एक थाली में धूप, दीप, चंदन, रोली, सिंदूर, घी का दिया रख कर भगवान की पूजा अर्चना किया करती है। इसके अलाव सभी सुहागन औरते करवा चौथ की व्रत कथा भी सुनती है। वहीं जैसे ही रात को आसमान में चांद के दीदार होते है वैसे महिलाए चंद्रमा को अर्घ्य देती है, उसकी पूरी विधि के साथ में पूजा करती है, और अपने पति के हाथों से पानी पी कर ही अपना ये निर्जला व्रत खोलती है।