1222 1

काले रंग के धागे का विशेष महत्व हिंदू में है। अगर तंत्र शास्त्र की मानें तो काले धागे का गुण यह होता है कि यह सारी नकारात्मक ऊर्जा को अपने भीतर समा लेता है और जो शख्स इस धागे को धारण करता है। उस पर किसी भी तरह की नकारात्मक उर्जा प्रभाव नहीं करती है और वह सकारात्मक दृष्टिकोण का व्यक्तित्व होता है।

इसके अलावा तंत्र शास्त्र के मुताबिक, काला धागा किस्मत को भी बदलने में अहम भूमिका निभाता है। तंत्र शास्त्र में यह बताया गया है कि आप मंगलवार या शनिवार को संध्या के समय किसी भी हनुमान मंदिर में जाना चाहिए और वहां पर हनुमान जी की मंदिर की मूर्ति से सिंदूर निकालकर काले धागे पर लगाना चाहिए। इसके बाद इस काले धागे को अपने घर के मेन गेट पर किसी कोने में बांध देना चाहिए। ऐसा करने से घर की सारी नकारात्मक ऊर्जा और बुरी शक्तियां दूर होती हैं और घर पर सुख शांति कायम होती है।

1 3
तंत्र शास्त्र के मुताबिक, अगर काले धागे को कोई सीधी कलाई में कोई शख्स पहनता है नकारात्मक ऊर्जा को काला धागा सोख लेता है और आपकी सारी परेशानियां दूर होती है। साथ ही सफलता के नए रास्ते खुलते हैं।

जाने काला धागा बांधने के पीछे का वैज्ञानिक कारण
अगर काला धागा बांधने की पीछे के वैज्ञानिक कारण को देखा जाए तो यह बताया जाता है कि हमारा पूरा शरीर पृथ्वी, वायु, अग्नि, जल और आकाश पांच तत्वों से मिलकर बना हुआ है। इससे शरीर ऊर्जावान बना रहता है लेकिन जब किसी की नकारात्मक नजर हमारे पर पड़ती है तो यह पांच तत्व पूरी तरह से सकारात्मक ऊर्जा हम तक नहीं पहुंचा पाते है। ऐसे में अगर काले धागे को पहना जाए तो नकारात्मक ऊर्जा दूर होकर हमारे पास सकारात्मक उर्जा पहुंचे लगती है।