टीम इंडिया के प्लेइंग XI में मंयक अग्रवाल को जगह मिलना था मुश्किल, मौका मिला और जड़ दिया शतक

483
मयंक अग्रवाल

शुरुआती सत्र के बाद, जिसमें भारत ने तीन महत्वपूर्ण विकेट गंवाए, मयंक अग्रवाल और श्रेयस अय्यर ने मेजबान टीम को मुंबई में चल रहे टेस्ट में वापसी करने में मदद की। इस जोड़ी ने चौथे विकेट के लिए 80 रन जोड़े, उसके बादल अय्यर को 18 रन पर एजाज पटेल ने आउट किया। इस स्पिनर ने पारी में भारत के सभी विकेट हासिल किए। उन्होंने सीनियर खिलाड़ी विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा को डक पर आउट किया। शुभमन गिल 44 रन पर आउट हुए।

इशांत शर्मा, रवींद्र जडेजा और अजिंक्य रहाणे प्लेइंग इलेवन से बाहर

इस बीच, मयंक अग्रवाल ने अपना शतक भी पूरा किया। आउटफील्ड गीली होने के कारण मैच की शुरुआत में देरी हुई और इसके कारण शुरुआती दिन सिर्फ दो सत्र खेले जाएंगे। इशांत शर्मा, रवींद्र जडेजा और अजिंक्य रहाणे को भारतीय खेमे से बाहर कर दिया गया है। न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने भी हिस्सा नहीं लिया और टॉम लैथम उनकी अनुपस्थिति में टीम का नेतृत्व कर रहे हैं।

कानपुर में एक रोमांचक टेस्ट के बाद, जिसमें न्यूजीलैंड के टेल-एंडर्स ने मैच ड्रा किया, टीम इंडिया दूसरा और अंतिम टेस्ट जीतकर सीरीज पर कब्जा करना चाहेगी। इस मैच में टी20 वर्ल्ड कप के बाद पहली बार विराट कोहली की वापसी भी हुई है।

मयंक अग्रवाल ने बनाया शतक

मयंक अग्रवाल

मयंक अग्रवाल एक कवर ड्राइव के साथ अपने शतक तक पहुंचे। यह इससे बेहतर नहीं हो सकता था। मयंक अग्रवाल हवा में उछले और पंच किया उसके बाद उन्होंने अपने दोनों हाथ उठाये। भगवान को धन्यवाद दिया।उ नके चेहरे पर राहत साफ नजर आ रही थी। मयंक पिछले कुछ समय से बल्ले से संघर्ष करते नज़र आ रहे थे। केएल राहुल के चोटिल होने के कारण उन्हें टीम में जगह मिली। जिसका उन्होंने इस टेस्ट में भरपूर फायदा उठाया। मयंक ने 13 चौके और 3 छक्कों की मदद से अपना शतक पूरा किया और टीम को एक अच्छी स्थिति में लेकर गए।

गौरतलब है कि मयंक अग्रवाल का न्यूजीलैंड के खिलाफ मुंबई टेस्ट में खेलना तय नहीं था। इस बल्लेबाज को कमजोर कड़ी माना जा रहा था क्योंकि कानपुर टेस्ट में मयंक उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सके थे। लेकिन वानखेड़े स्टेडियम में दबाव में इस बल्लेबाज ने जो शतकीय पारी खेली वह काफी सराहनीय थी।

बता दें, मयंक ने 2 साल के सूखे को खत्म कर शुक्रवार को टेस्ट करियर का चौथा शतक लगाया। कनार्टक के इस बल्लेबाज ने डेरिल मिचेल की गेंद पर चौका जड़ शानदार शतक लगाया। उन्होंने 196 गेंदों पर धमाकेदार शतक जड़ा।

मयंक और साहा के बीच अच्छी साझेदारी

फिलहाल मयंक और रिद्धिमान साहा के बीच एक अच्छी साझेदारी बनती नज़र आ रही है। दोनों ने अभी तक 40 से ऊपर रन जोड़ लिए है। भारतीय टीम उम्मीद कर रही होगी कि सेशन के अंत तक ये दोनों बने रहे।