भारत आने की इजाजत न मिलने पर माता-पिता ने अपने बेटे का फेसबुक पर देखा अंतिम सं’स्कार

कोरोना वायरस की वजह से सभी देशों में लॉकडाउन का ऐलान किया है वहीं इस लॉकडाउन की वजह से एक भारतीय परिवार को बेटे का अंतिम संस्कार को फेसबुक पर देखना पड़ा।

गल्फ न्यूज़ के मुताबिक, कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉकडाउन के बीच कैंसर से पीड़ित एक बेटे का दुबई में निधन हो गया। जिसका नाम जेउल जी. जोमे था. और वो शारजाह में जीईएमएस मिलेनियम स्कूल के 10 वीं कक्षा का छात्र था और वो दो सप्ताह पहले दुबई के अस्पताल भर्ती हुआ था जहां पर उसने अंतिम सांस ली, वहीं जब उसका नि’धन हुआ तब उसका परिवार की इच्छा था कि उसका अंतिम सं’स्कार उनके घर केरल में हो।

वहीं अधिकारियों के समर्थन के बाद 15 अप्रैल को शारजाह से पा’र्थिव शरीर को एक कार्गो विमान से भेजने की मंजूरी मिल गई। हालाँकि, उनमें से परिवार का शख्स कार्गो विमान में नहीं जा सका।  COVID-19 से संबंधित यात्रा प्रतिबंधों के कारण लड़के के माता-पिता को केरल जाने की अनुमति नहीं मिली जिसके बाद उन्हें अपने बेटे का अंतिम सं’स्कार फेसबुक पर लाइव देखना पड़ा।

वहीं उसका अंतिम संस्कार समारोह सुबह 4 बजे शुरू हुआ। उनके चचेरे बहन ने कहा कि उनके परिवार और जेउल जी. जोमे के परिवार ने फेसबुक पर समारोहों को देखा। इसके अलावा जुएल की चचेरी बहन ने कहा कि उनके माता-पिता और भाइयों को अपूरणीय क्षति से उबरने में समय लगेगा, लेकिन हम आभारी हैं कि उन्हें गृह नगर में भेजा गया।

आपको बता दें, कोरोना वायरस की वजह से अभी तक कई लाख लोगों की मौ’त हो चुकी है साथ ही इस वायरस ने 12 लाख से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। वहीं इस वायरस को रोकने के लिए सभी देशों में लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। जिसकी वजह से सभी यात्रा पर भी प्रतिबं लगा हुआ है ताकि ये वायरस ज्यादा ना फैले।