तेलंगाना का एक कोविड संक्रमित शख्स 11 दिनों तक पेड़ की चोटी पर रहा आइसोलेट

492

इस समय सभी देश कोरोना कहर के कहर से जूझ रहे हैं। वहीं इस कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए क्वारंटाइन का नियम बनाया गया है। क्वारंटाइन का मतलब खुद को 14 दिन के लिए सभी से अलग करना है। वहीं इस बीच खबर है कि एक कोविड मरीज को क्वारंटाइन करने के लिए पेड़ का इस्तेमाल किया और 11 दिन पेड़ पर ही आइसोलेशन में बिताए।

जानकारी के अनुसार, जो कोविड मरीज 11 दिन पेड़ पर आइसोलेशन रहा वो तेलंगाना के नालगोंडा जिले कोठानंदीकोंडा इलाके का है। कोविड के हल्के लक्षण दिखने पर 18 साल के शिवा ने जांच कराई, जिसमें 4 मई को उनकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई। वही ऐसे में क्वारंटाइन हिना था लेकिन घर छोटा होने के कारण और गांव में कोई आइसोलेशन सेंटर न होने की वजह से उन्हें पेड़ पर रहना पड़ा। और इस शख्स को पूरे 11 दिन पेड़ पर ही गुजारने पड़े।

वहीं 11 दिन क्वारंटाइन रहने के बाद उसने जाँच करवाई और टेस्ट नेगेटिव आने के बाद ही वो घर पर गया।

आपको बता दें, इस समय पूरा देश कोरोना की दूसरी लहर का दंश झेल रहा है। वहीं इस कोरोना वायरस की वजह से भारत के अस्पतालों में बेड, दवा, ऑक्सीजन और वेंटिलेटर की भारी कमी है। ऐसे में हल्के लक्षणों वाले कोविड मरीजों को होम आइसोलेशन की सलाह दी जा रही है। इस कोरोना वायरस से अभी तक भारत में 2 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है साथ 2 करोड़ से ज्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं।