skip to content
Posted inखेल

IND vs WI: आखिरी ODI में बने कुल 10 एतिहासिक रिकाॅर्ड, शुभमन गिल ने किया कमाल तो शिखर धवन ने रचा इतिहास

Ind vs WI 3rd ODI: बारिश से बाधित 35 ओवर मुकाबले में भारत ने वेस्टइंडीज को 119 रन से मात दी। इसी के साथ भारत ने क्लीनस्वीप करते हुए ये सीरीज 3-0 से अपने नाम की। भारत के कप्तान का पहले बल्लेबाजी का फैसला टीम के लिए सही साबित हुआ और भारत के सलामी बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 113 रन जोड़े।

बारिश के कारण शुभमन गिल (98*) अपने पहले ओडीआई शतक से वंचित रहें। जवाब में बल्लेबाजी करने आई कैरिबियन टीम को सिराज ने शुरूरती दो झटके दिए जिससे वेस्टइंडीज की टीम कभी उभर ही नहीं पाई। भारत के तरफ से सबसे ज्यादा विकेट (4) युजवेंद्र चहल ने हासिल किए। इसके अलावा मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर ने दो दो और प्रसिद्ध कृष्णा और अक्षर पटेल ने एक एक विकेट हासिल किए। वहीं कप्तान शिखर धवन ने भी अर्धशतक दर्ज किया।

Ind vs WI 3rd ODI: मैच में बने कुल 8 रिकॉर्ड

1. शिखर धवन वेस्टइंडीज में एकदिवसीय श्रृंखला में वेस्टइंडीज का व्हाइटवॉश करने वाले पहले भारतीय कप्तान बन गए हैं।

2. भारत से बाहर सबसे ज्यादा 50 प्लस स्कोर बनाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में शिखर धवन ने रोहित शर्मा की बराबरी कर ली हैं। अब उनसे आगे सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली हैं।

3. शुभमन गिल ने इस सीरीज में 100 के भी ऊपर की औसत से 205 रन बनाए। जिसमें दो अर्धशतक शामिल है। वह इस सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं।

4. अपनी अर्धशतकीय पारी के बाद शिखर धवन ओडीआई में 6500 रन पूरे करने से केवल 7 रन दूर हैं।

5. शिखर धवन ने ओडीआई फॉर्मेट में 800 चौका पूरे कर लिए है।

6. भारत की ओडीआई में ये वेस्टइंडीज के खिलाफ 70वीं जीत थी।

7. शुभमन गिल को मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज का खिताब मिला।

8. वेस्टइंडीज के खिलाफ ये भारत की लगातार 12वीं सीरीज जीत हैं। वेस्टइंडीज ने आखिरी बार महान खिलाड़ी ब्रायन लारा की कप्तानी में 2006 में भारत को ओडीआई सीरीज में हराया था।

9. शुभमन गिल ने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैच की तीन पारियों में 1 बार नाबाद रहते हुए 102.50 के औसत और इतने ही स्ट्राइक रेट के साथ कुल 205 रन बनाए।

10. शुभमन गिल सचिन तेंदुलकर का एशिया से बाहर वनडे में शतक जड़ने वाले सबसे युवा भारतीय बल्लेबाज बनने का रिकॉर्ड अपने नाम करने से चूक गए। सचिन ने 23 साल 291 दिन की उम्र में वनडे क्रिकेट में एशिया के बाहर अपना पहला शतक जड़ा था।