1 102

New Delhi: कोरोना वायरस के बढ़ते केस और महामारी की संक्रमित चैन को मद्देनजर रखते हुए यूनाइटेड अरब अमीरात की सरकार ने अपने जेलों से लगभग 400 पाकिस्तानी कैदियों को रिहा किया है। बरी किए गए पाकिस्तानी कैदियों को छोटे-मोटे जुर्मों के लिए जेल के अंदर कैद कर लिया गया था। अबु धाबी में स्थित पाकिस्तान एम्बीसी ने बताया कि UAE की सरकार से उन 400 पाकिस्तानी कैदियों को वापस भेजने के लिए स्पेशल फ्लाइट्स का इंतजाम कर रही है।

न्यूज पेपर डॉन में छपी खबर के अनुसार, बताया जा रहा हैं कि 400 पाकिस्तानी कैदियों में से 189 कैदी पहले फ्लाइदुबई की विमान से पाकिस्तान के पेशावर एयरपोर्ट पर पहुंच गए है। वहीं बाकी के 211 पाकिस्तानी कैदियों को फ्लाइदुबई की दूसरी फ्लाइट फैसलाबाद एयरपोर्ट पर पहुंचाए जाएगे। एडिशनल डिप्टी कमीश्नर ने बताया कि सभी कैद किए गए कैदियों को तब तक अलग-थलग रखा जाएगा, जब तक कि उनका COVID-19 के लिए टेस्ट ना हो जाए।

Background 5 12

 

UAE ने इन 400 पाकिस्तानी कैदियों को रिहा करने का फैसला पिछले हफ्ते लिया था। जब दुबई और अबू धाबी के पाकिस्तान एम्बीसी के बाहर सैकड़ों पाकिस्तानियों ने अपने घर वापस भेजे जाने की मांग करते हुए प्रदर्शन किया था।कुछ हफ्तों पहले 25,000 पाकिस्तानियों ने यूनाइटेड अरब अमीरात से अल्टर्नेशन बढ़ाने की रिक्वेस्ट की थी। वहीं कोरोना वायरस के कारण कई हजार पाकिस्तानी लोगों का रोजगार बंद हो गए हैं।

वहीं अगर भारत की बात करे तो इस समय 25 हजार भारतीय UAE समेत दुनिया के कई देशों में फंसे हुए है। जिन्हे वापस स्वदेश बुलाने वाली याचिका पर भारत की सुप्रीम कोर्ट ने कहा हैं कि वो लोग इस समय जहां हैं वहीं सुरक्षित रहे, क्योंकि 3 मई लॉकडाउन खत्म होने से पहले उन्हें वापस भारत बुलाना संभव नहीं है। वहीं अगर UAE की बात करे तो 14 अप्रैल को UAE के स्वास्थ्य और रोकथाम मंत्रालय ने कोरोना वायरस के 412 नए मामलों की घोषणा की है, जिसके बाद देश में कोरोना केस कुल संख्या 4,933 हो गई है, और अब तक वहां 28 लोगों की कोरोना वायरस की वजह से मौत भी हो गई है।